Saturday, August 25, 2018

डीमैट अकाउंट क्या है,कैसे खोले/Demat Account Kya hai,kaise khole



डीमैट अकाउंट क्या है,कैसे खोले/Demat Account Kya hai,kaise khole


                                                 
Demat Account


जब भी कोई नया आदमी Share Market में इंटर होता है तो उसका सबसे पहला क्वेश्चन होता है की Share Market क्या है और इसमें  Demat Account Kya hai, Kaise khole और इसके लिए कौन-कौन से Documents लगेंगें। तो आज हम जेनेगें की आप किस प्रकार बारे ही आसानी से अपना अकाउंट खुलवा सकते है. और घर बैठे Share Trading कर सकते हैं.

डीमैट अकाउंट होता क्या है.

(Dematerialized account) डीमैट अकाउंट एक ऐसा अकाउंट है, जिसके द्वारा आप शेयर मार्केट से शेयर की खरीद बिक्री कर सकते है. इस अकाउंट के बिना आप शेयर की खरीद बिक्री नहीं कर सकते हैं. यह अकाउंट ठीक उसी प्रकार का होता है. जैसा की आपका बैंक अकाउंट अंतर बस इतना होता है की इस अकाउंट में  आप के द्वारा डाला गया पैसे से आप Share Market में इन्वेस्ट कर सकते। इस अकाउंट में आपको पासबुक नहीं दिया जाता है बल्कि इसे आप ऑनलाइन लॉगिन कर यूज़ कर सकते हैं. और इसके बैलेंस और बांकी के डिटेल्स को देख सकते हैं. इस अकाउंट के बिना आप शेयर मार्केट में शेयर का खरीद बिक्री नहीं कर सकते हैं.


 DEMAT ACCOUNT कैसे काम करता है


डीमैट अकाउंट जो की आपके सेविंग बैंक अकाउंट से कनेक्ट रहता है.जब आप शेयर या आईपीओ खरीदना चाहते हैं तो सबसे पहले आपको अपने सेविंग अकाउंट से पैसा डीमैट अकाउंट में ट्रांसफर करना होता है. फिर आप जब जितने पैसे के शेयर खरीदते है उतना पैसा आपके डीमैट अकाउंट से काट जाता है और उसके बदले में उतने वैल्यू के शेयर आपके डीमैट अकाउंट में आ जाते हैं. जैसे आपने अपने डीमैट अकाउंट में दस हजार रूपये डालें फिर इन पैसों में से आपने किसी कंपनी के अस्सी शेयर खरीदते हैं. जिसकी कीमत सौ रूपये है. तो आपके डीमैट अकाउंट से आठ हजार रूपये कट जायेंगें। और बांकी के दो हजार रूपये बच जायेंगें।

           अब फिर अगर उस कंपनी के शेयर का दाम कुछ सालों बाद अगर सौ से बढ़ कर दो सौ हो जाता है तब आप बेंच देते हैं तो फिर वो शेयर(आठ सौ ) जो आपके डीमैट अकाउंट में है वो आपके आकउंट से ट्रांसफर होकर खरीदने वाले के अकाउंट में चला जायेगा। और आपके अकाउंट में प्रति शेयर दो सौ रूपये के हिसाब से सोलह हजार रूपये आपके अकाउंट में आ जायेंगें। पर इन पैसों में से कुछ पैसा ब्रोकर अपना चार्ज काट लेगा बाकि के पैसे आपके डीमैट अकाउंट में शो करेंगें। 

    उसी प्रकार अगर उस कंपनी के शेयर का भाव कुछ सालों बाद पचास रूपये प्रति शेयर हो जाता है और आप उसे बेचते है तब  पचास रूपये प्रति शेयर के भाव से यानि चार हजार रूपये आपके अकाउंट में आ जायेंगें। पर इन पैसों में से कुछ पैसा ब्रोकर अपना चार्ज काट लेगा बाकि के पैसे आपके डीमैट अकाउंट में शो करेंगें। शेयर बाजार से पैसा कमाना जितना आसान है उतना ही जायदा आसान गवाना भी है अगर आप थोड़ी सी भी गलती करते हैं तो आपके लाखों रूपये डूब सकते हैं अतः पूरी तरह जानकारी लेकर ही शेयर मार्केट में इन्वेस्ट करें।


डीमैट अकाउंट खोलने के लिए जरुरी डॉक्यूमेंट

डीमैट अकाउंट खोलने के आपको PAN कार्ड तो जरुरी है. और इसके आलावा आप नीचे दिए डाक्यूमेंट्स में से कोई भी एक डाक्यूमेंट्स दे सकते हैं.

* आधार कार्ड
* वोटर कार्ड
* ड्राइविंग लाइसेंस
* बिजली बिल
* पासपोर्ट
* राशन कार्ड
-मेरे हिसाब से अगर आप आधार कार्ड दे तो वो सबसे अच्छा रहेगा।


कितना खर्च लगता है DEMAT ACCOUNT खोलने में

डीमैट अकाउंट आप बहुत ही कम खर्च में खोल सकते है. लगभग पांच सौ से हजार रूपये में.पर अगर आप जब इसे पहली बार खुलवाएंगें तब इसे चालू करने के लिए दस से पंद्रह हजार रूपये लिए जाते हैं. जिसे आपके डीमैट अकाउंट में डिपॉज़िट कर दिया जाता है. फिर इस रूपये से आप शेयर खरीदें या पुनः अपने सेविंग अकाउंट में ट्रांसफर कर सकते हैं.


DEMAT ACCOUNT कहाँ खुलवाएं

डीमैट अकाउंट वैसे आप बैंक में भी खुलवा सकते है पर मेरे हिसाब से अच्छा रहेगा की आप किसी ब्रोकर कंपनी से खुलवाएं। ताकि वो आपको आसानी से अकाउंट भी खोल देंगें और इसके बारे में अच्छे से जानकारी भी देंगें। हम आपको नीचे कुछ ब्रोकर कंपनी के नाम बता रहे है जहाँ आप अपना डीमैट अकाउंट खुलवा सकते हैं.

* SMC
* ANGEL BROKING
* शेर खान

Read More:-



शेयर बाजार/शेयर मार्केट क्या है


  

0 Comments: